Madad ka vakya banao

फाइबर भी आपका पेट साफ रखने में मदद करता है।

यह एंटीबायोटिक की तरह काम करता और रोगों से लड़ने में मदद करता हैं।

यह त्वचा की नमी को दोबारा वापिस लाने में मदद करता हैं।

मिट्टी पानी को प्राकृतिक रूप से ठंडा रखता है जो शरीर में मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में मदद करता है।

मस्तिष्क को आराम मिलने और तनाव काम होने से लोगों को भूली हुई यादों को वापस लाने में भी मदद मिलती है।

भाप की मदद से त्वचा के रोमछिद्रों में जमी हुई गंदगी आसानी से बाहर निकल जाती है और साथ ही मुहांसों से भी राहत मिलती है।

फलों में कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो मानसिक विकास में मदद करते हैं।

पसीना बॉडी टेम्प्रेचर को मेंटेन करने में मदद करता है।

नींबू पानी विटामिन सी की पूर्ति करने के लिए मुख्‍य स्‍त्रोत है जो आपके इम्‍यून सिस्‍टम को बढ़ाने में मदद करता है।

यह कदम आपकी दृष्टिकोण को साफ़ करने और आत्म-शुद्धिकरण करने में मदद करता है।

इसमें सिलिकॉन और सल्फर की मात्रा अधिक होती है जो बालों की लंबाई बढ़ाने में मदद करते हैं।

इससे राहत पाने में एंटासिड की गोली बहुत मदद करेगी।

शायद ये खबर आपकी मदद कर सकती है।

स्टीम की मदद से चेहरे की डेड स्किन हटाने और झुर्रियों को कम करने में मदद मिलती है।

जेनेटिक काउंसलिंग की मदद से आप इस विकार और इसके कारण के बारे में जान सकते हैं और फिर इसका इलाज

शुरु करके इससे मुक्‍ति पा सकते हैं।

यह आपके ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल रखने में मदद करता है।

प्याज के रस में एंटीमाइक्रोबियल तत्व होते हैं जो कफ को बाहर निकालने में मदद करते हैं।

आयरन ब्‍लड सर्कुलेशन को ठीक करने में मदद करता है।

इससे सिर पर फिर से बालों को उगने में मदद मिलेगी।

इससे उन्हें प्रेग्नेंसी हासिल करने में मदद मिल सकती है।

इसमें मौजूद एमिनो एसिड की मदद से स्किन टिश्‍यू झुकते नहीं है जिससे झुर्रियां नहीं पड़ती हैं।

इसमें कई एंजाइम होते हैं जो पाचन के साथ कोलेन को साफ करने में मदद करते हैं।

इस सॉल्‍यूशन को स्‍प्रे बोतल की मदद से घर के आस-पास और प्‍लांट में डालें।

आयोडीन दिमागी विकास में मदद करता है और वजन को नियंत्रित रखने में सहायता करता है।

जब आपको ऐसी समस्याएं नजर आने लगे तो आप मनोचिकित्सक की मदद जरूर लें।

इसका सिरका ब्लड के पीएच वॉल्यूम को बढ़ाकर यूरिक ऐसिड को कम करने में मदद करता है।

Leave a Reply