Kami ka vakya banao

नींद का न आना पोटेशियम की कमी का पुख्ता संकेत है।

अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से अधिकतर लोगों की मौत हो चुकी है।

इसके नियमित सेवन से शरीर में खून की कमी नहीं होती है।

शरीर में कैल्शियम और विटामिन-डी की कमी को कम करने के लिए दूध पीने की सलाह दी जाती है।

शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का कम होना बहुत गंभीर संकेत होता है क्योंकि इसकी कमी से आपको कमजोरी महसूस होने लगती है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक दोपहर के आसपास शरीर का थकना और एकाग्रता में कमी आना बहुत ही सामान्य जैविक प्रक्रिया है।

यौन उत्तेजना में कमी आपके व्‍यक्तिगत जीवन को अस्‍त-व्‍यस्‍त कर सकती है।

शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए बीन्स को अपनी डाइट में शामिल करें।

शरीर में पानी की कमी होने पर व्यक्ति को चिड़चिड़ापन और थकान महसूस होने लगती है जिसके बाद नींद आने लगती है।

पानी की कमी की वजह से बाल झड़ने लगते हैं।

नींद का न आना पोटेशियम की कमी का पुख्ता संकेत है।

अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से अधिकतर लोगों की मौत हो चुकी है।

इसके नियमित सेवन से शरीर में खून की कमी नहीं होती है।

शरीर में कैल्शियम और विटामिन-डी की कमी को कम करने के लिए दूध पीने की सलाह दी जाती है।

शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का कम होना बहुत गंभीर संकेत होता है क्योंकि इसकी कमी से आपको कमजोरी महसूस होने लगती है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक दोपहर के आसपास शरीर का थकना और एकाग्रता में कमी आना बहुत ही सामान्य जैविक प्रक्रिया है।

यौन उत्तेजना में कमी आपके व्‍यक्तिगत जीवन को अस्‍त-व्‍यस्‍त कर सकती है।

शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए बीन्स को अपनी डाइट में शामिल करें।

शरीर में पानी की कमी होने पर व्यक्ति को चिड़चिड़ापन और थकान महसूस होने लगती है जिसके बाद नींद आने लगती है।

पानी की कमी की वजह से बाल झड़ने लगते हैं।

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top