Badalaav ka vakya banao

इस माह से मौसम और प्रकृति में बदलाव आते है।

इससे आपकी स्किन में कई तरह के बदलाव नजर आते हैं।

अगर आप यह एक्‍सरसाइज रोजाना दो से तीन महीने लगातार करेंगी तो निश्चित रूप से आपको अपनी बॉडी में कई तरह के बदलाव दिखाई देंगे।

इस तेल के इस्तेमाल से आप खुद में बदलाव जरूर महसूस करेंगे।

ये मौसम में आए बदलाव के साथ शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है।

मौसम के बदलाव के समय एहतियात बरतें।

दुनियाभर में जितनी तेजी से कोरोनावायरस के संक्रमण का दायरा बढ़ रहा है उतना ही लक्षणों में भी बदलाव आ रहा है।

शरद पूर्णिमा से मौसम में परिवर्तन की शुरूआत होती है।

लाइफस्टाइल में भी कुछ बदलाव करके भी डकार की समस्या से दूर रहा जा सकता है।

वर्कफ्रॉम होम की वजह से ब्रेकफास्‍ट से लेकर डिनर करने के टाइमिंग में काफी बदलाव आए हैं।

शरीर के अंदर बदलाव जैसे उम्र बढ़ने पर होने वाले बदलाव चेहरे और त्वचा पर साफ देखे जा सकते हैं।

हमारे देश में मौसम का बदलाव काफी तेजी से होता है इसलिए मच्छरों का प्रकोप भी काफी तेजी से फैलता है।

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top